Follow my blog with Bloglovin

श्री  गणेशाय   नमः 

चौरासी महादेव का महत्व
महाकाल की नगरी उज्जैन स्थित 84 महादेवों की अर्चना श्रावण माह में विशेष रूप से की जाती है जब पुरुषोत्तम मास (अधिक मास ) आता  है, तब भी दर्शन यात्रा की जाती हैं ।   स्कन्द पुराण के अनुसार ८४ लाख योनियों का भ्रमण करते हुए, मानव योनि में आते है, तो मानव योनि में आने के बाद में ८४ लाख योनियों  के भ्रमण में , हम से जो भी दोष हुआ हो , तो इन ८४ महादेव के दर्शन करने से सारे दोषो का निराकरण होता है। ऐसा कहा जाता है की प्रलय होने पर ८४ महादेव ही अचल रहेंगे।
  1. श्री अगस्तेश्वर महादेव : हरसिध्दि  मंदिर  के पीछे संतोषी माता  के  मंदिर  मे  यात्रा  यही से  प्रारंभ होती है , तथा अन्त मे पुनः श्री अगस्तेश्वर महादेव के दर्शन -पूजन  के उपरांत संपूर्ण होती है ।
  2. श्री गुहेश्वर महादेव : शिप्रा किनारे रामघाट पर बिना शिखर का मंदिर , श्री धर्मराजजी  मंदिर के पास नदी किनारे ।
  3. श्री ढूंढेश्वर महादेव  : शिप्रा किनारे रामघाट के  सामने  सीढी  पर बाए हाथ पर
  4. श्री  डमरूकेश्वर महादेव : रामघाट पर राम सीढी  पर
  5. श्री अनादिकल्पेश्व महादेव  :   महाकाल मंदिर क्षेत्र  के जूना  महाकाल  मंदिर के पास
  6. श्री स्वर्णज्वालेश्व महादेव  :  राम सीढी  पर श्री ढूंढेश्वर महादेव के ऊपर
  7. श्री त्रिविष्टेश्व महादेव : महाकाल मंदिर क्षेत्र मे ओंकारेश्वर मंदिर के पीछे महाकाल के सभा मंडप  की  सीढी  के पास
  8. श्री कपालेश्व महादेव  : श्री अवन्तिपाश्वनाथ तीर्थ  के चौराहा से बड़े पुल जाने पर घाटी  पर बाए हाथ पर । 
  9. श्री स्वर्णद्वारपालेश्व महादेव : महाकाल के चौराहा से हरिफाटक ब्रिज  जाने पर बाए हाथ पर पुलिया के नीचे। 
  10. श्री  कर्कोटेश्व महादेव  :    हरसिध्दि  मंदिर के परिसर मे । 
  11. श्री सिद्धेश्व महादेव  :   सिद्धनाथ मंदिर मे सिद्धनाथ घाट  के नये दरवाज़े  के पास  । 
  12. श्री लोकपालेश्व महादेव :  कार्तिक चौक से  रघुवंशी मार्ग  से दाए हाथ  के तरफ  की गली  मे सीधे  चौक  मे। 
  13. श्री मनकामेश्व महादेव :  शिप्रा नदी के छोटे पुल से रामघाट जाने के मार्ग , गधर्व घाट पर उदासीन  अखाड़े के पास । 
  14. श्री कुटुम्बकेश्व महादेव :  कार्तिक चौक सिंहपुरी  मे  श्री गोवर्धन नाथजी की हवेली (पुष्टिमार्गीय ) से  आगे  । 
  15. श्री इंददयुम्नेश्व महादेव :  पटनी बाजार से मोदीजी के गली मे खोखो माता मंदिर से पहले  । 
  16. श्री ईशानेश्व  महादेव :  श्री इंददयुम्नेश्व महादेव से पहले  । 
  17. श्री अप्सरेश्व महादेव :  पटनी बाजार के पास सुगंधी गली मे । 
  18. श्री कलकलेशश्व महादेव :  श्री ईशानेश्व  महादेव से आगे  की पहली गली मे दाए हाथ  तरफ । 
  19. श्री नागचंद्रेश्व महादेव :  पटनी बाजार के पास नागनाथ की गली मे  । 
  20. श्री प्रतिहारेश्व महादेव :   श्री नागचंद्रेश्वमंदिर के परिसर मे । 
  21. श्री कुक्कुटेश्व महादेव : शिप्रा नदी के छोटे पुल से रामघाट जाने के मार्ग पर उदासीन अखाड़े के पास 
  22. श्री कर्कटेश्वर महादेव : ढाबा रोड से दानी गेट पर श्री पोरवाल धर्मशाला के पास गली से सीधे अंदर सीधे हाथ  पर 
  23. श्री मेघनादेश्व महादेव: सतीगेट से गोपाल मंदिर मार्ग पर पहली गली, छोटा सराफा में नरसिंग मंदिर के पीछे ।
  24. श्री महालयेश्व महादेव : श्री सिद्धेश्वर महादेव के पीछे लेफ्ट साइड की गली में चौक में ।
  25. श्री मुकक्तेश्व महादेव : श्री सिद्धेश्वर महादेव के पीछे राइट साइड की गली में लेफ्ट साइड की पहली गली में अंदर 
  26. श्री सोमेश्व महादेव श्री अवन्तिपाश्वनाथ तीर्थ  के चौराहा से बड़े पुल जाने पर घाटी  पर राइट साइड में रोड पर 
  27. श्री अनकेश्व  महादेव: आगर रोड पर मकोडियाम चौराहे से अंकपात जाने के मार्ग पर बिजली घर से आगे लेफ्ट साइड की पहली गली इनिदरा नगर में पानी की टंकी से पहले की गली में अंदर 
  28. श्री जटेशश्व महादेव : अंकपात चौक से मकोडियाम जाने की सड़क पर मंदिर के आँगन में नया मंदिर 
  29. श्री रामेश्व महादेव: सती  दरवाजे के पास रामेश्वर गली में ।
  30. श्री च्यवनेश्व महादेव : अंकपात से इंदिरा नगर जाने के मार्ग  में ईद गहा के पास 
  31. श्री खंडेश्व  महादेव: आगर रोड मकोडियाम से आगे आर डी गार डी कॉलेज  के  रोड पर ही खिलची पर गाँव में टीले पर 
  32. श्री पत्तेश्व महादेव :आगर रोड मकोडियाम से आगे आर डी गार डी कॉलेज  के  रोड पर पुलिया से पहले 
  33. श्री आनंदेश्व महादेव : चक्क्रतीर्थ के गेट से आगे राइट साइड में ऊपर 
  34. श्री  कन्थडेश्व महादेव : सिद्धनाथ मंदिर के  सामने की गली में भैरवगढ़ गाँव के अंदर , ऊपर घाटी पर 
  35. श्री इन्द्रेश्व महादेव: श्री अवन्तिपाश्वनाथ तीर्थ  के चौराहा से बड़े पुल जाने पर घाटी के ठीक ऊपर रोड पर लेफ्ट साइड में रोड पर 
  36. श्री मार्कण्डेश्व महादेव: अंकपात मार्ग में राम लक्ष्मण  मंदिर के पास विष्णुसागर पर ।
  37. श्री शिवेश्व महादेव   : राम लक्ष्मण मंदिर की सीढ़ी  पर 
  38. श्री कुसुमेश्व महादेव  : राम लक्ष्मण मंदिर परिसर में द्वारकाधीश मंदिर की सीडी के नीचे 
  39. श्री  अक्रूरेश्वर महादेव  : राम लक्ष्मण मंदिर के बाहर ठीक सामने 
  40. श्री कुण्डेश्वर महादेव : अंकपात में अंकपात चुरहे से आगे बैठक   जी के परिसर में 
  41. श्री लुम्पेश्वर महादेव :भैरव गढ़ पुल के पार सीधे हाट की तरफ पुलिस लाइन में अंदर ।
  42. श्री गंगेश्वर महादेव : मंगल नाथ चौक में नदी के किनारे 
  43. श्री अंगारेश्वर महादेव  मंगल नाथ के पीछे कामड़ गाँव में ।
  44. श्री उत्तरारेश्वर महादेव  :मंगलनाथ चौक में श्री गंगेश्वर महादेव के आगे ।
  45. श्री त्रिलोचनेश्वर महादेव : मंगलनाथ रोड  से  लालबई फुलबई   मार्ग में  लेफ्ट साइड की गली में राईट साइड की गली में ।
  46. श्री वीरेश्वर महादेव :ढाबा रोड सत्यनारायण मंदिर के पास ।
  47. श्री नुपूरेश्वर महादेव : डाबरीपीठा  मे सुतरगली मे 
  48. श्री अभयेश्वर महादेव : ढाबा रोड से दानी गेट पर श्री पोरवाल धर्मशाला से आगे नदी मार्ग  पर लेफ्ट साइड की पहली गली मे अंदर ।
  49. श्री प्रथुकेश्वर महादेव :शिप्रा नदी के छोटे पुल  से राम बाग़  जाने के मार्ग पर नदी की रपट के पास श्री कैदारेशश्वर महादेव मे 
  50. श्री स्थावरेश्वर महादेव : श्री कालिदास मोन्टेसरी स्कूल बाम्बाखाना के सामने , नईपेठ मे शनि मंदिर में अंदर  
  51. श्री सुलेश्वर महादेव  :ढाबा रोड से दानी गेट पर श्री पोरवाल धर्मशाला के पास मे गली से आगे श्री कर्कटेश्वर महादेव से आगे लेफ्ट साइड की गली में अंदर ।
  52. श्री ओंकारेश्वर महादेव :गोपाल मंदिर से कमरी मार्ग जाते समय लेफ्ट साइड की पहली गली से सीधे  अंदर 
  53. श्री विश्वेश्वर महादेवश्री ओंकारेश्वर महादेव से आगे राइट साइड की गली के कोने पर 
  54. श्री नीलकण्ठेश्वर महादेव: पीपलीनाका चौराहा से बी पास रोड पर राइट साइड में रोड पर  
  55. श्री  सिंहेश्वर महादेव: ढकालिका  मे गणपति मंदिर से आगे ।
  56. श्री रेवन्तेवर महादेव : खाती मंदिर से कार्तिक चौक मार्ग पर मंदिर मे ।
  57. श्री घण्टेश्वर महादेव: कार्तिक चौक के तिराहे  पर ।
  58. श्री प्रयागेश्वर महादेव : शिप्रा के बडेपुल से पीपलीनाका  जाने  के मार्ग मे   ऋणमुक्तेश्वर  मंदिर से पहले ।
  59. श्री सिद्धेश्वर महादेव : गोपाल मंदिर के पीछे गली मे ।
  60. श्री मातंगेश्वर महादेव : टंकी चौराहा  के पास पिजारवाड़ी मे  ।
  61. श्री सौभाग्येश्वर महादेव : पटनी  बाजार के पास सौभाग्येश्वर की गली मे   ।
  62. श्री  रुपेशश्वर महादेव : सिंहपुरी मे  आताल -पाताल भैरव से श्री गोवर्धन नाथजी के हवेली जाने के मार्ग मे लेफ्ट साइड की गली मे अंदर ।
  63. श्री  धनुसहस्त्रेश्वर महादेव : पिपलीनाका  से तिलकेश्वर मंदिर के पास की गली मे अंदर , महाजन बस्ती मे  ।
  64. श्री पशुपत्तेश्वर  महादेव : सब्जी मंडी से चक्रतीर्थ  के बीच  बाय पास  मे  पहली , गली मे  घाटी ऊपर ।
  65. श्री ब्रह्मेश्वर महादेव : ढाबा रोड़  से दानी गेट मार्ग , पोरवाल धर्मशाला के पास को गली में अंदर बाये हाथ की पहली गली में  ।
  66. श्री  जल्पेश्वर महादेव : बड़े पुल से गांधी  उद्यान  से पहले  राइट साइड के रास्ते मे नदी के पास ।
  67. श्री केदारेश्वर महादेव : शिप्रा नदी के छोटी पुलिया से राम बाघ मार्ग पर पुलिया  के राइट साइड में मंदिर ।
  68. श्री  पिशाचमुक्तेश्वर महादेव : रामघाट पर नदी के किनारे ।
  69. श्री संगमेश्वर महादेव  :श्री अगस्तेश्वर महादेव मंदिर के बाजू मे गेट से सीधे , नीचे सीढ़ी  से नीचे ।
  70. श्री  दुर्घटेश्वर  महादेव  : शिप्रा नदी के गंधर्व  घाट  पर श्री मनकामनेश्वर महादेव के पास श्री कुक्कुटेश्व महादेव   के पास ।
  71. श्री  प्रयागेश्वर महादेव  : कार्तिक चौक से  रघुवंशी मार्ग  से दाए हाथ  के तरफ  की गली  मे सीधे  चौक  मेश्री लोकपालेश्वर महादेव के पास ।
  72. श्री  चन्द्रादित्येश्वर महादेव  : श्री  महाकाल मंदिर के सभामंडप ,कुण्ड के पास मंदिर के अंदर ,  शंकराचार्या के मूर्ति के पास ।
  73. श्री करभरेश्वर महादेव :भैरवगढ  में कालभैरव मंदिर के सामने ,पुलिया के पास ।
  74. श्री राजस्थलेश्वर महादेव : भागसीपुरा  मे आनन्दभैरव के पास के गली मे , कोने पर ।
  75. श्री  बड़ेलेश्वर महादेव  : श्री सिद्धनाथ मंदिर (भैरवगढ  ) , पर सिद्धवट के सामने ।
  76.  श्री अरुणेश्वर महादेव  : रामघाट पर राम सीढी के किनारे , श्री धर्मराज महाराज  के बाजू  मे , राम सीढी से पहले ।
  77.  श्री  पुष्पदन्तेश्वर महादेव  : कार्तिक चौक के तिराहे , से रघुवंशी मार्ग जाने  पर लेफ्ट साइड की गली मे  घाटी के ऊपर ।
  78. श्री अभिमुक्तेश्वर महादेव:   सिंहपुरी  मार्ग में मंगल नाथ से आगे ।
  79. श्री हनुमंतेश्वर महादेव   : ढकालिका क्षेत्र  मे  श्री  सिंहेश्वर महादेव , से आगे ।
  80. श्री स्वप्नेश्वर महादेव  : श्री महाकाल मंदिर परिसर  मे ।
  81.  श्री  पिंगलेश्वर महादेव : फ्रीगंज से मक्सीरोड पर श्री सिंथेटिक फैक्ट्री के पास के रास्ते मे बहुत अंदर  , रेलवे  के पुलिया के नीचे  होते हुए ।
  82.  श्री  कायावरोहणेश्वर महादेव : त्रिवेणी से तपोभूमि के पास  के रास्ते , से बहुत अंदर करोहण गावँ  मे  ।
  83. श्री  बिल्बकेश्वर महादेव : गंभीर डेम  मार्ग पर , ग्राम  अम्बोदिया में श्री सेवाधाम आश्रम  के ठीक सामने ।
  84.   श्री दुर्दरेश्वर महादेवआर. डी गार्डी  मेडिकल कॉलेज से आगे , सीधे  जैथल  गावँ  में बहुत अंदर ।
  85.  
     
उज्जैन मे  ८४ महादेव है इनमे से  ४  श्री महाकाल के द्वारपाल  हैं।  यह उज्जैन की चार दिशाओ मे हैं
  1. श्री  पिंगलेश्वर महादेव     ( पूर्व )
  2. श्री  कायावरोहणेश्वर महादेव    (दक्षिण)
  3. श्री  बिल्बकेश्वर महादेव      (उत्तर )
  4. श्री  दुर्दरेश्वर महादेव    (पश्चिम)

      उज्जैन के  ८४ महादेव की  यात्रा , क्षेत्र  के अनुसार इस प्रकार है -

      (१).  हरसिध्दि  मंदिर और शिप्रा नदी : 

             श्री अगस्तेश्वर महादेव, श्री संगमेश्वर महादेव,श्री  कर्कोटेश्व महादेव  :(हरसिध्दि  मंदिर के परिसर मे ) 
      श्री स्वर्णज्वालेश्वर महादेव ,श्री ढूंढेश्वर महादेवश्री अरुणेश्वर महादेव , श्री गुहेश्वर महादेवश्री पिशाचमुक्तेश्वर महादेव,श्री  डमरूकेश्वर महादेव
                   श्री मनकामेश्व महादेव,श्रीकुक्कुटेश्व महादेव,श्रीदुर्घटेश्वर  महादेव,श्री केदारेश्वर महादेव, 
                    श्री प्रथुकेश्वर महादेव


      महाकाल मंदिर क्षेत्र :

      श्री अनादिकल्पेश्वर महादेव  :   महाकाल मंदिर क्षेत्र  के जूना  महाकाल  मंदिर के पास 

      श्री त्रिविष्टेश्वर महादेव : महाकाल मंदिर क्षेत्र मे ओंकारेश्वर मंदिर के पीछे महाकाल के सभा मंडप  की  सीढी  के पास 

      श्री  चन्द्रादित्येश्वर महादेव  : श्री  महाकाल मंदिर के सभामंडप ,कुण्ड के पास मंदिर के अंदर ,  शंकराचार्या के मूर्ति के पास

      श्री स्वप्नेश्वर महादेव
       श्री महाकाल मंदिर परिसर  मे ।

      श्री स्वर्णद्वारपालेश्वर महादेव : महाकाल के चौराहा से हरिफाटक ब्रिज  जाने पर बाए हाथ पर पुलिया के नीचे। 


      चक्क्रतीर्थ :

      श्री आनंदेश्व महादेव : चक्क्रतीर्थ के गेट से आगे राइट साइड में ऊपर 

      (२ ). कार्तिक चौक  :

       (३ ) ढाबा रोड, दानी गेट , खटीकवाङा , अनंत पेठ , चक्रतीर्थ , बड़े पुल 

             श्री ब्रह्मेश्वर महादेव,श्री कर्कटेश्वर महादेवश्री सुलेश्वर महादेव,श्री विश्वेश्वर महादेव,
      श्रीओंकारेश्वर महादेव , श्री अभयेश्वर महादेव,श्री सोमेश्व महादेव,
      श्री कपालेश्व महादेव,श्री इन्द्रेश्व महादेव,श्री  जल्पेश्वर महादेव ,
      श्री वीरेश्वर महादेव (ढाबा रोड सत्यनारायण मंदिर के पास ।)


      (४ ). पिपलीनाका, ढकालिका क्षेत्र 


      (५ ). नयापुरा ,अंकपात मार्ग, मंगल नाथ , कालभैरव, श्री सिद्धनाथ मंदिर

                  श्री त्रिलोचनेश्वर महादेव, श्री मार्कण्डेश्व महादेव,श्री शिवेश्व महादेव,श्री कुसुमेश्व महादेव,
                   श्री  अक्रूरेश्वर महादेव,श्री कुण्डेश्वर महादेव,श्री च्यवनेश्व महादेव,श्री जटेशश्व महादेव,
               श्री अनकेश्व  महादेव, श्री गंगेश्वर महादेव, श्री उत्तरारेश्वर महादेव, ,श्री अंगारेश्वर महादेव
                 श्री  बड़ेलेश्वर महादेवश्री सिद्धेश्व महादेवश्री  कन्थडेश्व महादेव ,श्री लुम्पेश्वर महादेव,
                श्री करभरेश्वर महादेव

      (६  ). आगर रोड ,मकोडिया आम , जैथल  गावँ


      (७  ). सती  गेट , छत्री चौक (टंकी चौराहा), छोटा  सराफा  , नई पेठ , भागसीपुरा ,पटनी  बाजार


      (९ ). त्रिवेणी से तपोभूमि के पास  के रास्ते , से  करोहण गावँ

      (१० ). फ्रीगंज पुल से मक्सीरोड पर श्री सिंथेटिक फैक्ट्री के पास के रास्ते मे , पिंगलेश्वर   गावँ


              श्री  पिंगलेश्वर महादेव  

      24 comments:

      1. मैंने सपत्नीक ८४महाविद्यालय की यात्रा का आनंद उठाया,जिससे मन को शान्ति मिली

        ReplyDelete
      2. Jaimahakal jaimataji jaiganeshji

        ReplyDelete
        Replies
        1. Thanks for comment
          would you plz write how this website help you during 84 mahadev yatra

          Delete
      3. Thanks for the post
        Very helpful as Area wise darshan Done

        ReplyDelete
      4. Replies
        1. Thanks
          who are you , how this blog helpful during yatra
          write me.

          Delete
      5. Thanks for wishes
        tell to people about this blog

        ReplyDelete
      6. Replies
        1. Jai Shri Mahakal ,would you share how this blog help you during 84 mahadev yatra

          Delete
      7. would you plz read
        उज्जैन के ८४ महादेव की यात्रा , क्षेत्र के अनुसार इस प्रकार है -
        this Topic have just ,above comment section see it.

        ReplyDelete
      8. जय श्री महाँकाल

        ReplyDelete
      9. The total number of Mahadev Temples area wise, is 76 only. 8 temples are missing. This requires correct updating.

        ReplyDelete
      10. thanks for comment , would you read , all 84 mahadev temples in area wise, if you have more query , just comment it , i will try my best and help you during 84 Mahadev Yatra

        ReplyDelete
      11. बहुत ही सुंदर जानकारी मैं कई वर्षों से 84 महादेव के नाम खोज रहा था मेरे हृदय में तीव्र अभिलाषा थी 84 महादेव के दर्शन के आज आपने पता पता सहित उनका उल्लेख किया आज मुझे लगा कि आप मेरे लिए महादेव के द्वारा भेजे गए देवदूत है कैसे आपका धन्यवाद करूं आपने बहुत बड़ा मार्गदर्शन किया ईश्वर करे आप इस जन्म में और जन्म जन्मांतर महाकाल की आप पर कृपा बनी रहे आपको मेरा कोटि-कोटि धन्यवाद

        ReplyDelete
        Replies
        1. श्री महाकालेश्वर भगवान की कृपा से ही ,मैंने ८४ महादेव यात्रा का ब्लॉग पूरा किया , मुझे बहुत खुश हुई की ,मेरे निमित आपकी अभिलाषा पुरी हो पाई ,
          आप नौ नारायण यात्रा ,सप्तसागर यात्रा ,पंचक्रोशी यात्रा के सभी पड़ाव , देवी के नौ रूप के बारे मे भी पढ़े

          आप ब्लॉग के बारे मे और लोगो को भी बताये , आपका कोटि कोटि धन्यवाद

          Delete
      12. जय श्री महाकाल बहुत सुंदर जानकारी है

        ReplyDelete
      13. Thanks for apprecation, would you plz sharing blog to others people.

        ReplyDelete